UPSC ki Taiyari kaise Karen – कुछ अनसुने UPSC crack करने के टिप्स

UPSC ki Taiyari kaise Karen – स्वागत है आपका Anicow.com पर| इस आर्टिकल की शुरुवात संदीप माहेश्वरी के इस quote से करना चाहूंगा “अगर desire choose करना ही है, तो बड़े से बड़ा choose करो, सबसे बड़ा..”! और मुझे लगता है UPSC से बड़ा desire और कुछ हो ही नहीं सकता| चाहे कोई engineering student हो या medical doctor, या फिर कोई MBA student, या LLB student, या फिर कोई commerce graduate; हर किसी का desire कभी ना कभी UPSC की तरफ मुड़ता ही है|

और ये desire हो भी क्यों ना; UPSC वो शिखर है जिसके ऊपर और कोई सपना या desire होता ही नहीं! इतने बड़े शिखर तक पहुँचने के लिए मेहनत भी उसी level की चाहिए! इस शिखर तक पहुँचते-पहुँचते आप कई बार गिरेंगे, कई बार टूटेंगे, बिखरेंगे, आपको बहुत कुछ negative सुनना पड़ेगा; लेकिन इस शिखर तक वहीं पहुँच पायेगा जो हर स्तिथि में बोलेगा, “मैं खेलेगा”|

मैं खेलेगा की वो कहानी याद है ना आपको? अगर नहीं तो इस वीडियो को देखिये-

इस वीडियो की तरह ही आपके जीवन में भी UPSC ki Taiyari के दौरान कई obstacles और परेशानियाँ आएँगी| अब ये आपके ऊपर है की आपको ये ‘UPSC का match’ खेलना है या नहीं!

इस आर्टिकल में मैं आपको UPSC ki taiyari kaise kare पर टिप्स देने वाला हूँ जिसमे हर उन एक point को बताया गया है जो आपको तैयारी शुरू करने से लेकर आपके final destination तक मदद करेंगी| तो चलिए शुरू करते है! ये आर्टिकल उन सभी students के लिए उपयोगी रहेगा जो UPSC के हर post और group के लिए तैयारी कर रहे है जैसे IAS, IPS, IRS, IFS.

सबसे पहले Strategy बनाए – UPSC ki Taiyari Kaise Karen?

किसी भी काम को करने से पहले एक proper strategy का होना बहुत जरुरी है| बिना strategy के आप सिर्फ यहाँ-वहाँ भटकते ही रहेंगे| और UPSC जैसे exam को clear करने के लिए आपको एक अव्वल दर्ज़े की strategy लगेगी, जो बाक़ियों से अलग होनी चाहिए!

The success key is- Winners don’t do different things, they do things differently..!

Things you should keep in your mind- (Strategy, routine & Time table)

सबकी अपनी-अपनी strategy होती है जो सबसे अलग होती है| जरुरी नहीं की IAS topper (AIR rank 1) की strategy को follow करने से आप भी topper बन जायेंगे| ऐसा नहीं है!

आपको अपनी strategy खुद से बनानी पड़ेगी| मैंने कई students को देखा है जो सुबह 4 बजे उठ के पढ़ते है और कइयों को देखा है जो रात भर पढ़ते है और सुबह सोते है| कई students तो ऐसे है जिनसे अगर कोई Maths का problem solve नहीं हो पा रहा है तो वो कान में headphone लगाकर गाना सुनते-सुनते उस problem को झट से solve कर देते है|

किसी को तो सोते-सोते पढ़ना पसंद है क्योकि उनके मुताबिक़ इस से उन्हें चीज़े ज्यादा समय तक याद रहती है| इसलिए सबकी अपनी strategy होती है| आपकी भी अलग होगी| जो आपको अच्छा लगे, जैसा अच्छा लगे, आप वैसे कीजिए|

लेकिन बस एक बात का ध्यान हमेशा रखिये की > “UPSC का एक chair आपके जिलें (District) में आपका इंतज़ार कर रहा है…“|

UPSC ki taiyari kaise kare – शुरुवात ठीक से करे

शुरुवात छोटे-छोटे steps से करे और जड़ से करे! आपको पहले ही दिन Laxmikant, Spectrum और The Hindu लेकर बैठ नहीं जाना है| आपको सबसे पहले इस बात को समझना होगा की UPSC का syllabus और pattern conceptual रहता है| आप अगर चीज़ो को समझोगे नहीं तो आपका पढ़ना व्यर्थ है| आपको सबसे पहले अपने ईमारत की नींव (base) को मजबूत करना पड़ेगा|

इसके लिए सबसे पहले आपको NCERT से शुरुवात करनी पड़ेगी| जिस तरह युद्ध शुरू होने से पहले शंकनाद किया जाता है, ठीक उसी तरह UPSC की तैयारी का शंकनाद NCERT है| NCERT के बिना आप UPSC के युद्ध में मनोबल नहीं पाएंगे!

NCERT Books download link – Click Here

UPSC ki Taiyari kaise Karen

UPSC/IPS/IAS ki taiyari kaise kare – Secret Funda जो कोई नहीं बताता

UPSC Interview दरअसल इंटरव्यू नहीं बल्कि एक personality test होता है जिसके suggestive questions आपको किसी किताब में नहीं मिलने वाला| आपको interview board में कहीं से भी, कुछ भी पूछा जा सकता है| इसके लिए आपको खुद तैयार होना होगा|

Interview में आपका presence of mind, बोलने का ढंग, मुश्किल परिस्थिति में निर्णय लेने की कला, leadership skills, communication skills, problem dealing skills, और general knowledge का test लिया जाता है|

IPS Safin Hasan जी का कहना है की – UPSC के इंटरव्यू में अगर आप 10 में से 9 questions के answer भी sorry sir और sorry maam कहके देते है तो भी उसका आपके selection process में कोई impact नहीं पड़ता| Impact पड़ता है वो 9 questions ना आने का pressure आप कैसे handle करते है; आपके पसीने छूट जाते है या फिर आप वही temperament के साथ interview continue करते है|

UPSC ki taiyari kaise kare – Prelims+Mains

ये दोनों ही UPSC परीक्षा के बहुत महत्वपूर्ण stage है| मैं आपको यहाँ कोई book suggest नहीं करने वाला क्योंकि इसके ऊपर आपको हज़ारों टिप्स और book list मिल जायेंगे, और शायद आपने अब तक सारे collect भी कर लिए होंगे! लेकिन मैं आपको यहाँ बताने वाला हूँ आपके पढ़ने का perspective कैसा रहेगा!

उदहारण के लिए prelims में आपको ये पूछा जा सकता है की, ‘संविधान के किस article को the heart and soul of the Constitution कहा जाता है?’

जहाँ दूसरी तरफ mains में आपको ये पूछा जा सकता है की, ‘पिछले साल संविधान के जिस xyz article में amendment किया गया है उसपर अपना दृष्टिकोण रखिए’|

मतलब साफ़ है की आपको conceptual study approach पर जोर देना पड़ेगा| किताबों के साथ साथ आपको current events पर भी ध्यान देना पड़ेगा| उन्हें समझना पड़ेगा, उनके अलग अलग sides (positive & negative) सोचने पड़ेंगे और एक conclusion निकालना पड़ेगा| तभी आप अपनी बात mains paper में लिख पाएंगे और interview board को confidence के साथ face कर पाएंगे|

Usian Bolt नहीं, लम्बी race का घोड़ा बनिए-

UPSC की तैयारी 6 से 7 महीनों की नहीं होती, इसमें सालों लगते है| Syllabus बहुत बड़ा है जिसे complete करते करते एक साल भी लग जाते है| ऐसे में अगर आपने एक topic आज पढ़ा है और उसे revise नहीं करते है तो कुछ समय बाद आप उसे भूल सकते है| फिर आपको उस topic को दोबारा शुरू से पढ़ना पड़ सकता है|

इसलिए इस लम्बी race में revision बहुत जरुरी है| आपको एक दिन में Usian Bolt नहीं बनना है, बल्कि Marathon race का घोड़ा बनना है| हर topic को time table के हिसाब से सजा दे और regular revision जरूर करे| सप्ताह में 2 दिन सिर्फ revise करने के लिए रखे|

आपको UPSC की तैयारी करना है, Asylum में नहीं जाना है- (UPSC ki taiyari kaise karen)

अक्सर ये सुनने को मिलता है की UPSC ki taiyari के दौरान students अपने आप को घर के अंदर बंद कर देते है और दिन रात पढ़ते रहते है| और ऐसा करने से कुछ महीनों बाद वो mentally और physically breakdown हो जाते है| लेकिन आपको ऐसा नहीं करना है|

आपको पढ़ना भी है और normal life भी lead करना है| ध्यान रखिए की UPSC crack करने के बाद आपको ज्यादातर अपने district में field work पर ही जाना पड़ेगा| लोगो के बीच रहना पड़ेगा, उनके साथ interact करना पड़ेगा| तो इसकी भी तैयारी preparation के पहले दिन से ही शुरू कर दे|

आप अपने local किसी NGO को join कर सकते है, किसी social club को join कर सकते है| अपने जिले, नगरपालिका या पंचायत level पर होने वाले social कामों में participate कर सकते है| इन सब कामों से आप internally motivate रहेंगे और ये interview board में भी आपका सबसे बड़ा plus point रहेगा|

इसके साथ साथ एक normal life lead कीजिए, Friends के साथ group discussions कीजिए, library join कीजिए, sports खेलिए, movies देखिए| सफर लम्बा है, इसलिए घर में किताबों के साथ बंद रहने से कुछ नहीं होगा| बाहर निकलिए, अपनी UPSC की तैयारी को enjoy कीजिए!