Humsafar Shayari – हमसफ़र शायरी (मेरे हमदम हमसफ़र)

Humsafar Shayari – “हमसफ़र” शब्द से ही पता चलता है इसका मतलब; जो हमारे सफर में हमेशा हमारे साथ हो| लेकिन अफ़सोस ये है कि हमसफ़र बनते तो है लेकिन उम्र भर साथ चलते बहुत कम है| लेकिन अगर ज़िन्दगी भर साथ निभाने वाला हमसफ़र मिल जाए तो ज़िन्दगी सवंर जाती है|

आज की शायरी इसी हमसफ़र पर है| यहाँ दी गयी शायरी उन सभी लोगो के लिए है जो या तो हमसफ़र के तलाश में है, या फिर हमसफ़र से अपने दिल का इज़हार करना चाहते है| तो चलिए पढ़ते है आज के Humsafar Shayari in Hindi.

Humsafar Shayari in Hindi

# बातें तो हर कोई समझ लेता है,
हमसफ़र ऐसा हो जो ख़ामोशी भी समझे..!!

# हमसफ़र बनकर तेरा फ़िक्र करता हूँ,
अब तो हर शायरी में तेरा जिक्र करता हूँ..!!

# हमारे बाद किसी ओर को हमसफ़र बनाकर देख लेना,
तेरी ही धड़कन तुझसे कहेगी – उसकी वफ़ा में कुछ ओर ही बात थी..!!

# ज़िन्दगी में ये कहानी सभी की है,
हमसफ़र कोई ओर है, हमराज़ कोई ओर..!!

# ज़िन्दगी देने वाले मरता छोड़ गए,
अपनापन जताने वाले तनहा छोड़ गए,
जब पड़ी जरुरत हमे हमसफ़र की,
साथ चलने वाले रास्ता मोड़ गए.!!

# ज़िन्दगी हमारी भी चैन से बसर हो जाती,
मुकम्मल जो हमसफ़र की कसर हो जाती..!!

हमसफ़र शायरी – Humsafar Shayari

# बस एक सफर हमारा है बाकी तो सफर के हिस्से है,
जो साथ चले वो हमसफ़र और बाकी सब झूठे किस्से है..!!

# मोहब्बत में अक्सर ऐसा होता है,
आँखे हंसती है और दिल रोता है,
मानते हो तुम जिसे मंज़िल अपनी,
हमसफ़र उनका कोई और होता है..!!

# कुछ तो हवा सर्द थी,
कुछ था तेरा ख्याल भी,
दिल को ख़ुशी के साथ साथ,
होता रहा ऐ हमसफ़र तेरा मलाल भी..!!
(मलाल = दुःख)

Breakup के बाद साथी का बर्ताव कुछ इस तरह से होता है जैसे हमे पहचानते ही ना हो| इसी बर्ताव पर बनी है ये शायरी-
# बड़े करीब से गुजरे वो बेखबर बनकर,
कल तक साथ थे जो हमसफ़र बनकर..!!

Humsafar Shayari in Hindi

हमसफ़र शायरी 2 लाइन

# हमें सीने से लगाकर हमारी सारी कसक दूर कर दो,
हम सिर्फ तुम्हारे हो जाए हमें इतना मजबूर कर दो..!!

# चाहत बन गए हो तुम की आदत बन गए हो तुम,
हर सांस में यूँ आते हो जैसे मेरी इबादत बन गए हो तुम.!!

# तमन्नाओं को जिन्दा और आरजुओं को जवां कर लूँ,
तुम हमसफ़र बन जाओ मैं तुमसे मोहब्बत बेइंतेहा कर लूं..!!

Humsafar Shayari 2 Line in Hindi

# आगे पूरा सफर था और पीछे हमसफ़र था,
रुकते तो सफर छूट जाता और,
चलते तो हमसफ़र छूट जाता..!!

# आँखों में रहा वो कभी दिल में उतर कर नहीं देखा,
कश्ती के मुसाफिर ने शायद मुझमे प्यार का समंदर नहीं देखा..!!

# ज़िन्दगी की राहो में मिलेंगे तुम्हे हज़ारो हमसफ़र,
लेकिन उम्र भर ना भूल पाओगे वो मुलाकात हूँ मैं..!!

# जब साथ हो तुम हमसफ़र के रूप में,
तो तैयार हूँ मैं तुम्हारे साथ चलने को कड़कती धुप में..!!

# हमसफ़र मेरे, दिल हो तुम धड़कन हम,
संगीत हो तुम आवाज़ हम..!!

Humsafar Shayari in Hindi

# मेरे हर दर्द का मरहम तुम ही हो,
दिल की धड़कनों की धड़कन तुम ही हो,
क्योंकि मेरे सफर का हमसफ़र तुम ही हो..!!

# यकीन नहीं होता कि वो बेवफ़ा कभी मेरा हमसफ़र था,
सब कुछ तो था हमारे बीच,
पर ना जाने वो प्यार किधर था..!!

# गगन से भी ऊँचा मेरा प्यार है,
तुझी पर मिटूंगा ये इकरार है,
तू इतना समझ ले मेरे हमसफ़र,
तेरे प्यार से मेरा संसार है..!!

# सुन मेरे हमसफ़र क्या तुझे है इतनी खबर,
तेरी साँसे चलती जिधर,
मैं रहूँगा वही उम्र भर..!!

# ज़िन्दगी आसान तब बन जाती है जब,
हमसफ़र समझदार होने के साथ साथ,
समझने वाला भी मिल जाए..!!

# लम्हा जो मेरा था वो मैंने उसके नाम कर दिया,
कहानी जो मेरी थी शब्द उसके नाम कर दिया,
गम जो उसके थे वो अपने नाम कर लिया,
खुद को धूप में रखा छांव उसके नाम कर दिया..!!

Valentine Day Shayari