Emotional story in hindi – “हर मुराद पूरी करने वाली टापू”

By | October 27, 2019

Emotional story in hindi – नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका Anicow.com पर| आज हम आपके लिए लेकर आये है एक emotional story in hindi जिसका नाम है “हर मुराद पूरी करने वाली टापू”|

ये emotional hindi story काफी रोचक है जिसमे २ किरदार है – एक बाप और उसका बेटा| दोनों बिज़नेस करने के लिए एक दूसरे देश के लिए निकले थे| दोनों पैदल चल रहे थे| बहुत दिन चलने के बाद वो दोनों खो गए|

दोनों को सामने कुछ नहीं दिख रहा था| कुछ देर चलने के बाद दोनों को २ टापू दिखा| वो दोनों एक टापू में जाकर बैठ गए| दोनों पूरी तरह से थक गए थे| खाना तो दूर की बात, वह पिने के लिए स्वच्छ पानी भी नहीं था| उनमे इतनी भी हिम्मत नहीं थी कि वो वापिस जा सके|

Emotional story in hindi

दोनों काफी घबरा गए थे क्योकि वहाँ दूर दूर तक कुछ नहीं था| वो दोनों चिंता करने लगे की वो क्या खाएंगे, कहा रहेंगे, रात को क्या होगा, कहा सोयेंगें? ये सब सोचे सोचते बाप और बेटा दोनों चिंता में पड़ गए|

बाप पूरी तरह से उम्मीद हार चूका था| उसने अपने बेटे से कहा-

बाप – बेटा मुझे नहीं लगता की यहाँ कोई हमारी मदद के लिए आने वाला है| हम दोनों शायद यहाँ ऐसे ही घुट घुट के मर जाएंगे|

बेटा – मैंने आपको कहा था पिताजी कि ये रास्ता गलत है, लेकिन आपने मेरी एक ना सुनी!! अब भुगतो!!

इतने में बेटे को वहाँ टापू में एक board में कुछ लिखा हुआ मिलता है| उस board में कुछ ऐसा लिखा हुआ था-

इन दोनो टापू में एक जिन्न रहता है जो इन दोनों टापुओं का मालिक है| आप इस जिन्न से सच्चे मन से कुछ भी मांग सकते है| जिन्न सबकी मुराद पूरी करता है| आप कोई ३ चीज़े मांग सकते है|

बेटे ने अपने बाप को वो board दिखाया| बाप ने तुरंत अपने बेटे से कहा-

बाप – बेटा, इस से पहले कि अँधेरा हो तू सामने वाले उस टापू में चले जा और कही बैठकर अपनी wish मांग| और मैं इस टापू में बैठकर अपनी wish मांगता हूँ| शायद जिन्न हमारी wish पूरी करे और हम इस मुसीबत से निकल सके|

बेटा तुरंत सामने दूसरे टापू में चला जाता है और एक शांत जगह बैठ जाता है, और अपने मन में जिन्न को याद करता है ताकि वो जिन्न प्रकट हो| बाप भी वही बैठे बैठे ध्यान करने लगता है ताकि वो भी जिन्न से अपनी wish मांग सके|

[ Emotional story in hindi continues….]

इतने में दूसरे टापू में जहाँ बेटा बैठा था, वहाँ जिन्न प्रकट होता है|

जिन्न – बोल तुझे क्या चाहिए?

बेटा – मुझे बहुत भूक लगी है, कुछ खाने को मिल सकता है?

जिन्न तुरंत उसके सामने अलग अलग खानो से सजी हुई एक थाली लेकर प्रकट होता है|

जिन्न – और मांग तुझे क्या चाहिए|

बेटा – मुझे एक नाव चाहिए, मैं इस टापू से निकलना चाहता हूँ|

जिन्न तुरंत एक नाव लेकर आ जाता है और कहता है इसमें सिर्फ एक सवारी ही जा सकती है|

बेटा तुरंत उस नाव में बैठ कर, उस टापू को छोड़कर पानी के रास्ते निकल जाता है|

बीच समुद्र में जिन्न फिर हाज़िर होता है और बेटे से पूछता है-

जिन्न – तू अपने बाप को क्यों छोड़ कर आ गया? तू कैसा बेटा है?!!

बेटा – मैंने अपने पिताजी से कहा था कि इस रास्ते ना आये| पर उन्होंने मेरी एक ना सुनी| अब मैं इस टापू में अपनी ज़िन्दगी बर्बाद नहीं कर सकता| मुझे यहाँ से बाहर जाना है और ज़िन्दगी में बहुत कुछ करना है| एक पैसेवाला कामियाब इंसान बनना है| इसलिए मुझे जो ठीक लगा, मैंने किया|

[ Emotional story in hindi continues….]

तब जिन्न उस से बोलता है-

जिन्न – अरे मुर्ख!! मैं सिर्फ तीन wish पूरी करता हूँ| मैंने तेरी 2 wish पूरी की, और तेरे पिताजी जी की एक wish पूरी करने जा रहा हूँ|

बेटा – क्या wish की थी मेरे पिता ने| जरूर कुछ उलटी सीधी wish मांगी होगी| वो किसी की सुनते कहा है!!

जिन्न – तेरे बाप ने wish ये मांगी थी की –

“अगर मुझे इस टापू में कुछ हो जाए तो ज़िन्दगी भर मेरे बेटे की हिफाजत करना| उसे सही सलामत घर पंहुचा देना| वो अपने जीवन में जो कुछ भी चाहे वो पूरी करना|”

इतना सुनकर बेटा रो पड़ता है| वो तुरंत अपनी नाव पीछे की ओर घुमाता है और अपने पिताजी के पास पहुंच कर उनके पैरो में गिर पड़ता है|

बाप बेटे के प्यार को देखकर जिन्न भी भावुक हो जाता है और उन दोनों को सही सलामत उस टापू से बाहर निकाल कर घर पंहुचा देता है|

Moral of the story-

हमे हमेशा अपने माता पिता का सम्मान करना चाहिए| माँ बाप कभी भी अपने संतान का कोई बुरा नहीं चाहते| वो जो कुछ भी करते है उसमे हमेशा अपने संतान की भलाई के लिए करते है| उनके डाट और मार में भी आशीर्वाद होता है जो हमे आगे चलकर समाज में एक सभ्य इंसान बनाता है| इसलिए हमेशा अपने माँ बाप की सुने|

“Do whatever you do; but don’t trouble your mata, pita aur bharat mata”…!!

Final words-

तो कैसी लगी आपको आज की ये emotional story in hindi ? हम उम्मीद करते है आपको पसंद आयी होगी| ऐसे और भी emotional story in hindi पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग Anicow.com के साथ बने रहे|

HTMLFont size

AniCow.com

ऐसे और भी interesting articles पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग AniCow.com के साथ बने रहे!

Category: Entertainment

About Ankita Kumari

Hi this is Ankita Kumari, editor cum writer of this blog. By profession I work as a Blogger. My hobbies are watching bollywood movies, drawing, reading novels and singing.!! I work as a content writer here.